Types of Callipers: साधारण आउटसाइड कैलीपर्स

Types of Callipers: साधारण आउटसाइड कैलीपर्स

Types of Callipers: साधारण आउटसाइड कैलीपर्स

साधारण आउटसाइड कैलीपर्स (Simple Outside Callipers): साधारण आउटसाइड कैलीपर्स इस्पात (steel) की दो पत्तियों को अंदर की ओर मोड़कर तथा उन्हें एक सिरे पर रिवेट द्वारा जोड़कर बनाया जाता है। रिवेट इस प्रकार लगाई जाती है कि कैलीपर्स कि दोनों टांगों को थोड़ा बल लगाकर खोला या बंद किया जा सके तथा आवश्यक दूरी उसमें भरी जा सके। इसकी दोनों टांगे ऊपर से चोड़ी व क्रमश: पतली होकर नीचे नुकीली हो जाती हैं।

स्प्रिंग आउटसाइड कैलीपर्स (Spring Outside Callipers)

साधारण दृढ़ संधि कैलीपर्स में भरी गई दूरी को बार-बार उपयोग में नहीं लाया जा सकता क्योंकि एक बार मापने पर बल पड़ने से वह घट या बढ सकती है। इस समस्या का समाधान स्प्रिंग कैलिपर्स में किया गया है।

चित्र में एक स्प्रिंग आउटसाइड कैलीपर्स दर्शाया गया है। इसमें कैलीपर्स कि दोनों टांगों के ऊपरी भाग में खांचा देकर एक रिंग स्प्रिंग लगाया गया है तथा उनके मध्य में एक लीवर डालकर दोनों टांगो को कसने के लिए एक स्क्रू लगाया गया है। इस स्क्रू पर लगे नट के द्वारा हम दोनों टांगों के मध्य वांछित दूरी सैट कर सकते हैं। इस प्रकार से कैलीपर्स के मध्य सैट की गई दूरी स्क्रू पर नट को घुमाकर आगे-पीछे चलाने पर ही बदली जा सकती है। कैलीपर्स द्वारा माप लेने पर इसमें भरी गई दूरी बल लगने पर भी बदलती नहीं है। अतः एक बार माप भरने पर उसे बार-बार प्रयोग में लाया जा सकता है।

Types of Callipers: साधारण आउटसाइड कैलीपर्स
Types of Callipers: साधारण आउटसाइड कैलीपर्स

क्लिपर्स के फायदे

जैसा कि हम सभी जानते हैं कि बस का यूज किसी भी वस्तु का माप लेने के लिए किया जाता है। खास करके दिवस का यूज़ उन क्षेत्रों में होता है जहां पर किसी भी आकार के वस्तु का निर्माण किया जाता है। इस पैमाने का यूज करके आप किसी भी वस्तु का बिल्कुल एग्जैक्ट माफ याद कर सकते हैं। जिससे आपको उस वस्तु के साइज का दूसरा वस्तु बनाने में किसी प्रकार की समस्या का सामना नहीं करना पड़ेगा।

आप सभी को जानकारी के लिए बता दें कि क्लिपस अनेक प्रकार के होते हैं। आप अपने काम तथा सुविधा के अनुसार किसी प्रकार की बर्थ का यूज कर सकते हैं। साधारणतया स्प्रिंग क्लिपर का यूज़ अधिकतर किया जाता है। क्योंकि इससे माप लेने में ज्यादा परेशानी नहीं होती है। जब आप किसी भी वस्तु का माप लेते हैं और बिल्कुल एक्यूरेट माप ज्ञात हो जाता है तो उस वस्तु के आकार का दूसरा वस्तु बनाने में आपको कोई परेशानी नहीं होगा।

क्लिपस इस्तेमाल करते समय सावधानियां

जैसा कि हम सभी जानते हैं किसी भी उसका यूज़ करने के लिए सावधानी बहुत ही जरूरी है। जैसे कि इस्तेमाल करने से पहले आपको यह देख लेना है कि टूल्स में किसी प्रकार की गड़बड़ी तो नहीं है। साथ में इस्तेमाल करते समय आपके हाथ में दस्ताना तथा जरूरी नियमों का पालन करना बहुत ही आवश्यक है। क्योंकि यह टूल्स मेटल के बने होते हैं और आपके लापरवाही से आपको या दूसरे को नुकसान पहुंचा सकते हैं।

खासकर देखा जाता है कि कार्यस्थल पर अनेक प्रकार के मेटल बिछड़े होते हैं जिस कारण से पैर या हाथ में चोट लगने की संभावना अधिक होती है। इसलिए कार्यस्थल पर काम करते समय पैरों में जूते तथा हाथों में दस्ताना होना चाहिए तथा क्लिपर्स का यूज़ करते समय उसके सही तरीके से काम कर रहे हैं कि नहीं यह मालूम कर लेना चाहिए। अगर इसका मानता नहीं करते हैं तो आपके द्वारा मां पर गए वस्तु के साइज में गड़बड़ी हो सकती है।

इस पोस्ट में क्लिपर्स से संबंधित लगभग लगभग सभी महत्वपूर्ण बातें बता दी गई है अगर आप विस्तार से जानना चाहते हैं तथा प्रिडिकल देखना चाहते हैं तो नीचे यूट्यूब चैनल का लिंक दिया गया है जिसे क्लिक करके आप हमारे युटुब चैनल विजिट करके जानकारी प्राप्त कर पाएंगे।

Spread the love

Leave a Comment

Scroll to Top